जिले के बारे में

राजनांदगांव जिले से कवर्धा तहसील तथा बिलासपुर जिले से पंडरिया तहसील को अपवर्जित कर तत्कालीन मध्यप्रदेश शासन के अधिसूचना क्रमांक 1241 एफ- 20.08.2002 राजपत्र (असधारण) दिनांक 2.7.1998 द्वारा एक नए जिले का गठन कर कवर्धा को मुख्यालय नियत किया गया और  उपरोक्त  अधिसूचना के अनुसार दिनांक 6 जुलाई 1998 से कवर्धा जिला अस्तित्व में आया तत्पश्चात छत्तीसगढ़ शासन के अधिसूचना के दिनांक 10 मार्च 2003 द्वारा कवर्धा जिले का नाम बदल कर कबीरधाम किया गया |